in , ,

पांचाल: भोजपुरी फ़िल्म जगत की अश्लीलता और धोखेबाजी की कहानी?

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर भोजपुरी फ़िल्म पांचाल का ट्रेलर रिलीज किया गया हैं।जिसे देखने के बाद फ़िल्म के निर्माता निर्देशक लेखक और कलाकारों पर अश्लीलता फैलानें का आरोप लग रहा हैं।

राजकुमार आर. पांडेय

भोजपुरी फ़िल्म जगत की एक ऐसी फ़िल्म जिससे भोजपुरी फ़िल्म को बदनाम करने का एक और मौका मिल गया। पहले से ही भोजपुरी फ़िल्म जगत को अश्लील कहा जाता हैं और बीते दिन स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर भोजपुरी फ़िल्म पांचाल का ट्रेलर रिलीज किया गया हैं।जिसे देखने के बाद फ़िल्म के निर्माता निर्देशक लेखक और कलाकारों पर अश्लीलता फैलानें का आरोप लग रहा हैं।

ऐसा सामान्य हैं क्योंकि कोई भी एक आम इंसान अगर इस फ़िल्म के ट्रैलर को अगर देखे तो उन्हें गालियाँ सुनने को मिलेगी।लेकिन,मेरा विचार हैं कि राजकुमार आर. पाण्डेय इस फ़िल्म के जरिये अश्लील भोजपुरी गीत संगीत और कलाकारो की कहानी को दर्शाने की कोशिश की हैं। साथ ही अक्सर जो धूर्त फ़िल्म निर्माता होते हैं।उनकी भी कहानी फ़िल्म में देखने को मिलेगी, कि कैसे एक धोखेबाज फ़िल्म निर्माता निर्देशक हीरो बनाने के नाम पर पैसे की ठगी करते हैं और हीरोइन बनाने के नाम पर लड़कियों से दुष्कर्म करते हैं।

जब मैंने भी पहली बार पूरी फ़िल्म का ट्रैलर देखा तो मुझे भी यही लगा कि राज कुमार आर पाण्डेय जी किस प्रकार की फ़िल्म का निर्माण कर दिया। लेकिन, ट्रेलर की शुरुआत देखे तो आपको राजकुमार आर. पाण्डेय के बारें में पता चल जायेगा।

हालाकिं यह फ़िल्म परिवार के साथ बैठ कर देखने लायक नहीं हैं।अगर फ़िल्म से कुछ अश्लील संवाद अर्थात गालियों को हटा दिया जायें तो फ़िल्म की कहानी बहुत ही शानदार हो जायेगी।पर जैसे गैंग्स ऑफ़ वासेपुर बनी,जिसमे गालियों की भरमार थी।आज तक वह फ़िल्म टीवी पर नहीं आई, पर रिलीज के साथ पर्दे पर छा गयी।

अब इस फ़िल्म कहानी ही भोजपुरी फ़िल्म जगत की अश्लील गीत संगीत और कलाकारों की कहानी से प्रेरित हैं।इस वजह से कहानी और संवाद में अश्लील संवाद हैं।

ट्रैलर की शुरुआत राजकुमार आर पाण्डेय के इंट्रो से शुरुआत होती हैं।फिर एक गाली सुनने को मिलेगी,जिसके बाद प्रमोद प्रेमी यादव अपने दोस्तों के संग लौंडा नाच स्टेज प्रोग्राम करते दिखेंगे।चूँकि,प्रमोद प्रेमी का सपना होता हैं गायक और नायक बनने का।इस चीज की बहस ट्रेलर में एक बुजुर्ग के साथ वे करते हैं और वहाँ भी अश्लील संवाद सुनने को मिलेगा।ट्रैलर के आगे बढ़ने पर संजय पाण्डेय की एंट्री होती हैं और वे भी माँ की गाली दे डालते हैं।

क्योंकि,फ़िल्म में प्रमोद प्रेमी से संजय पाण्डेय की बनती नहीं हैं।ट्रेलर आगे बढ़ने पर डुप्लीकेट राजकुमार आर पाण्डेय यानी की मनोज सिंह टाइगर की एंट्री होती हैं।जो फ़िल्म बनाने के नाम पर प्रमोद प्रेमी के परिवार से पैसे ले लेते हैं।लेकिन,उससे पहले एक अश्लील संवाद वे भी दे डालते हैं।अब शुरू होती हैं फ़िल्म बनाने का खेल।हीरो के चयन के बाद हीरोइन की तलाश होती हैं और एंट्री होती हैं रानी चटर्जी की।लेकिन,रानी चटर्जी के साथ ये सभी पाँचों मिल कर दुष्कर्म करते हैं और फ़िल्म की कहानी में अब यहाँ से ट्विस्ट आ जाता हैं।अब वास्तव में राजकुमार आर. पाण्डेय को इस बारें में पता चलती हैं। पुलिस कार्रवाई भी शुरू होती हैं और अंत में ये कलाकार अश्लील बनाने से तौबा कर लेते हैं।

फ़िल्म में शुभी शर्मा और अक्षरा सिंह के साथ प्रदीप पाण्डेय चिंटू गेस्ट अपीरेन्स में नजर आएंगे।अब दर्शक इस फ़िल्म को किस रूप में लेते हैं यह देखने की बात हैं।

फ़िल्म की पूरी टीम का विवरण निम्न प्रकार से हैं :-

Bhojpuri Film – Panchal

Producer – Rajkumar R Pandey

Starcast – Rani Chatterjee, Pramod Premi, Manoj Tiger, Ravi Yadav, Sanjay Pandey, Ranjeet Yadav ,Manisha Yadav, Udhari Babu

Guest Appearance – Pradeep R Pandey (Chintu) , Akshara Singh , Shubhi Sharma

Director – Dev Pandey

Music – Rajkumar R pandey

Lyrics – Raj Kumar R. Pandey,

Banner – Saideep Films

Music on – Desidhun

Post Production: 3 Studio

Writer – Lal ji Yadav

Dop – Vijay Pandey

Editor – Gurjant Singh

The views and opinions expressed by the writer are personal and do not necessarily reflect the official position of VOM.
This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

Comments

0 comments